Saturday, October 29, 2011

घर में तो आँगन नहीं है |

क्यूँ लायी हो मुझको दुनिया में तेरे पास तो दामन नहीं है
कैसे सीखूंगा घुटनों के बल चलना घर में तो आँगन नहीं है |

_________________हर्ष महाजन