Saturday, March 31, 2012

मेरे दर पर आने वाले तेरी तदबीर बना दूं


मेरे दर पर आने वाले तेरी तदबीर  बना दूं
अलख जगे हो जिसमे ऐसी तस्बीर बना दूं ।

______________हर्ष महाजन