Thursday, April 26, 2012

खौफ इस बात का मुझको के ख़ुशी गम न बने

खौफ इस बात का मुझको के ख़ुशी गम न बने
जो मोहब्बत है मिली, दोस्त से दुश्मन न बने ।

____________________हर्ष महाजन