Tuesday, April 17, 2012

वो आये मेरी कब्र पर, जाने कहाँ-कहाँ से गुज़रे

वो आये मेरी कब्र पर, जाने कहाँ-कहाँ से गुज़रे
दरिया-ए-लहू का निकला वो जहां-जहां से गुज़रे ।

_________________________हर्ष महाजन