Sunday, April 29, 2012

इन सायों का तजुर्बा कोई क्या जाने

..

इन सायों का तजुर्बा कोई क्या जाने
कोई हमसा हो कब्र में तो कोई जाने ।

_______________हर्ष महाजन