Sunday, April 22, 2012

क्या ज़माल-ए-हुस्न तेरा क्या जवाब-ए-गरूर तेरा

क्या ज़माल-ए-हुस्न तेरा क्या जवाब-ए-गरूर तेरा
तू अब धडकनों में मेरी , मैं मिसाल-ए-फितूर तेरा ।

________________________हर्ष महाजन ।