Tuesday, May 22, 2012

किसी शाक से उस शख्स ने जब उसे तोडा होगा

..

किसी शाक से उस शख्स ने जब उसे तोडा होगा
दर्द बन गुजरेगा, जब विरह का इक फोड़ा होगा ।

कुम्हला जायेंगे खिले हुए वो फूल उन बागानों के
जहां-जहां उस शख्स ने डालों को झंझोड़ा होगा ।

________________________हर्ष महाजन ।