Wednesday, May 16, 2012

तारीख हमें याद है अपने इश्क की 'हर्ष'

तारीख हमें याद है अपने इश्क की 'हर्ष'
ईमान की हम अपने तिजारत नहीं करते ।

________________हर्ष महाजन ।

तिजारत=धंधा