Monday, June 18, 2012

हो जाऊं मैं तुम्हारा बस इतनी है आरज़ू

..

हो जाऊं मैं तुम्हारा बस इतनी है आरज़ू
वीरानियों से कह दो कहीं और जा बसें ।

_______________हर्ष महाजन ।