Tuesday, November 6, 2012

उम्र भर कसीदे पढ़ता रहा तेरी राह में 'हर्ष'

...

उम्र भर कसीदे पढ़ता रहा तेरी राह में 'हर्ष'
तू इस तरह आयी कि मुझे पहचाना ही नहीं |

________________हर्ष महाजन |