Wednesday, April 10, 2013

जाने इतना कुछ उसने क्यूँ दर्ज कर दिया

....

जाने इतना कुछ उसने क्यूँ दर्ज कर दिया,
उम्र भर चाहा जिसे उसे ही क्यूँ मर्ज़ कर दिया |
कितनी नम है ये कलम सब लिखते-लिखते,
जो दिल कभी अपना था क्यूँ क़र्ज़ कर दिया |

____________________हर्ष महाजन