Friday, May 3, 2013

मेरी हर सांस में तुम हर पल रहने लगी हो

...

मेरी हर सांस में तुम हर पल रहने लगी हो
फिर जुर्म ये उसे तुम ख्वाब कहने लगी हो ?

___________________हर्ष महाजन