Sunday, June 30, 2013

उसने मुझे अचानक दिल से यूँ उतार दिया

...

उसने मुझे अचानक दिल से यूँ उतार दिया,
पल में ज्यूँ अजनबियों में यूँ शुमार किया |
बिन बात के कोई यूँ ही रूठता नहीं है 'हर्ष',
मैं आईना था उसका,उसने भी नकार दिया |

__________________हर्ष महाजन