Wednesday, July 31, 2013

यूँ ही बेरुखी में उसने कभी खुद को न संभाला

....

यूँ ही बेरुखी में उसने कभी खुद को न संभाला,
दुनिया की अब नज़र में खुद को ही मार डाला |
कोई कैसे पूछे हाल और कोई कैसे खुद बताये,
यूँ लगा के अपनी तस्वीर खुद को ही हार डाला |

______________हर्ष महाजन