Wednesday, August 21, 2013

जाने किस ख्याल से ये मंसूबे बनाए उसने

...

जाने किस ख्याल से ये मंसूबे बनाए उसने,
ज़हर देकर बचने के नुस्खे भी बताये उसने |
किस तरह कहूँ ये इश्क था या नफरत उसकी,
दुनियां को क्या-क्या फलसफे सुनाये उसने |

_______________हर्ष महाजन