Monday, August 5, 2013

कितना हासिल हैं मुझे प्यार के शब् से गुज़र जाऊं

...

कितना हासिल हैं मुझे प्यार के शब् से गुज़र जाऊं,
इतना मुझसे न तू कर प्यार के हद से गुज़र जाऊं |

_______________हर्ष महाजन