Friday, August 23, 2013

दिल के आईने में अक्स उसका अब दिखाई न दे

...


दिल के आईने से मेरे उसका अक्स ऐसे गया ,
मेरे हाथों की लकीरों से वो शख्स जैसे गया |

________________हर्ष महाजन