Thursday, September 19, 2013

कितने खौफनाक होंगे वो मंजर जब मोहब्बतें खफा हो जाएँ,

...

कितने खौफनाक होंगे वो मंजर जब मोहब्बतें खफा हो जाएँ, 
फकत इतना ज्यूँ जिस्म से धीरे-धीरे नाखून हटा लिए जाएँ |

_______________________हर्ष महाजन