Monday, September 16, 2013

अपनी तस्वीर मैं फेसबुक पे, दिखा लूं तो चलूँ


...

अपनी तस्वीर मैं फेसबुक पे, दिखा लूं तो चलूँ,
दिल के अरमान को उसमें मैं मिला लूं तो चलूँ |

काश इक दौर मोहब्बत का फकत मुझ पे चले,
फिर मैं उनको भी ग़ज़लों में सुना लूं तो चलूँ |

मुझको इक शौक सितमगर हों मिरे बहुत यहाँ,
फिर मैं ख़त उनके दरों से भी, उठा लूं तो चलूँ |

दिल के आईने में .. सजा ले कोई तस्वीर मेरी,
तलब इतनी कि मोहब्बत को मिटा लूं तो चलूँ |

काश सब भूल कर मुझ पर ही वसीयत कर लें,
फिर भरा जाम मैं होटों से..... लगा लूं तो चलूँ |

________________हर्ष महाजन