Tuesday, October 15, 2013

उठो कि आज मोहब्बत को तू पानी कर ले

...

उठो कि आज मोहब्बत को तू पानी कर ले,
जो भी हासिल है तुझे अपनी कहानी कर ले |

_______________हर्ष महाजन