Sunday, November 3, 2013

मेरे भैय्या तेरे बिन आज भी सजती महफ़िल

जन्म-दिन की बहुत बहुत शुभ-कामनाएं भाई सुरेश महाजन
04/1 1 /2 0 1 3
____________________________________

...
मेरे भैय्या तेरे बिन आज भी सजती महफ़िल,
नहीं भूलेगा जन्म-दिन जो तेरा आज के दिन ।

पर अधूरी सी क्यूँ लगती है .... हर चीज़ यहाँ,
केक काटे हैं ये ऐसे जैसे कटे.... मेरा ये दिल ।

ऐ खुदा कैसे करूँ शुक्र मैं.... उस दिन के लिए;
भेजा तूने जो है धरती पे भरा प्यारा सा दिल ।

जाने क्यूँ इतंजार है अब...दिल धड़के है क्यूँ ,
है जन्म-दिन शायद सज रही...तेरी महफ़िल ।

मेरी हर एक दुआ तेरी ......... उमर लम्बी करे,
जहां धड़केगा तेरा दिल वहीं हो तेरा जन्म-दिन ।

_______________हर्ष महाजन