Tuesday, November 5, 2013

लगता है वो अपनी कलम का फिक्रमंद नहीं

...

लगता है वो अपनी कलम का फिक्रमंद नहीं,
शुक्रिया तो कहता है सबको मगर पसंद नहीं ।
अदाएं देखो तो कुछ सही भी कहा करते हैं वो ,
अच्छी शायरी का शुक्रिया से कोई सम्बन्ध नहीं ।

_______________हर्ष महाजन