Sunday, December 1, 2013

कुछ मीठे अल्फ़ाज़ों से, मशहूरियत का अंदाज़ा क्यूँ लगा लेते हैं लोग



कुछ मीठे अल्फ़ाज़ों से, मशहूरियत का अंदाज़ा क्यूँ लगा लेते हैं लोग,
शोहरत तो वो ज़ज्बा है जब चाहने वाले उनकी तहरीरों का पता देते हैं ।

_____________________हर्ष महाजन