Wednesday, June 11, 2014

छोटी सी ये रियासत.....दोस्तों की महफ़िल


....

छोटी सी ये रियासत.....दोस्तों की महफ़िल,
दोस्तों की अमानत......दोस्तों की महफ़िल |
देखकर रखना कदम सल्तनत आम नहीं ये ,
दोस्त ही हैं ज़मानत.....दोस्तों की महफ़िल |


____________हर्ष महाजन


Chhoti sii ye riyaasat.......... dostoN kii mehfil,
DostoN kii amaanat.............dostoN kii mehfil.
Dekhkar rakhna kadam saltnat aam nahiN ye,
Dost hi hai zamanat...........dostoN kii mehfil.

________________Harash Mahajan