Monday, November 24, 2014

तुम्हें मेरी ज़िंदगी की कुर्बतों से क्या वास्ता

...

तुम्हें मेरी ज़िंदगी की........कुर्बतों से क्या वास्ता,
तुमने पा लिया खुदा यहाँ भी इश्क वहां भी इश्क |


...

TumheN merii zindagii kii qurbatoN se kya waasta,
tumne pa liya khuda yahaN bhi Ishq wahaN bhi ishq.

_____________________हर्ष महाजन