Tuesday, March 3, 2015

मेरे किरदार में उसका...ज़िक्र तक नहीं रहा कभी

...

मेरे किरदार में उसका...ज़िक्र तक नहीं रहा कभी,
जाने फिर क्यूँ खुशफ़हमी का शिकार है वो शख्स |

_____________हर्ष महाजन