Friday, April 17, 2015

अपने दिल पर किसी का रंग चढ़ाकर तुम भी देखो तो

...

अपने दिल पर किसी का.रंग चढाकर तुम भी देखो तो,
अपनी किस्मत में थोड़ी भंग मिलाकर तुम भी देखो तो ।
कभी शरबत सी आँखों से.........तेरी जब नूर टपकें तो,
शराबी आँखों से फिर जंग.....चलाकर तुम भी देखो तो ।

----------------हर्ष महाजन