Monday, November 2, 2015

मुझे यूँ ही तलब न किया करो अपनी तस्वीरों से

...

मुझे यूँ ही तलब न किया करो अपनी तस्वीरों से,
न जाने किस लम्हा ये धड़कन मेरा साथ छोड़ दे |


__________________हर्ष महाजन