Monday, February 12, 2018

इतना भी तो आसां नहीं किसी शेर को कह पाना


...

इतना भी तो आसां नहीं किसी शेर को कह पाना,
इक-इक लफ्ज़ मुहब्बत हार कर पिरोना पड़ता है |

___________________हर्ष महाजन