Wednesday, August 23, 2017

मेरे किस्से मेरी दुनिया भी कोई जाना नहीं


...

मेरे किस्से मेरी दुनिया भी कोई जाना नहीं,
दर्द कितना मेरे दिल में था कोई माना नहीं |
साथ रहते थे..........तसव्वुर का पता देते थे,
पहले दीवाने बहुत... अब कोई दीवाना नहीं |

____________हर्ष महाजन