Thursday, July 17, 2014

मुझे गम नहीं बे-वफ़ा है तू

...

मुझे गम नहीं बे-वफ़ा है तू,
मुझे गम है मेरी खता है तू ।
क्यूँ इल्म मुझसे दगा किया,
इस ज़िन्द का काल सफा है तू ।

-------------हर्ष महाजन