Saturday, November 24, 2012

तेरे हुस्न के चर्चे मुझे अब पास तेरे आने न दें

...

तेरे हुस्न के चर्चे मुझे अब पास तेरे आने न दें,
अब बता ये हदें कैसी लोग इनको हटाने न दें |

______________हर्ष महाजन