Monday, January 14, 2013

इस बार तो चाहत नजर आने लगी है

..

इस बार तो चाहत नजर आने लगी है,
उसकी बातें दिल को सहलाने लगीं हैं |
सोच-सोच कर आँखें नम हुई जाती हैं,
कि कैसे दिल में तिनके लगाने लगी हैं |

______________हर्ष महाजन