Wednesday, July 4, 2012

कुछ इस तरह मौसम का अंदाज़ बना डाला

..

कुछ इस तरह मौसम का अंदाज़ बना डाला
खुश गवार मोहबत को अवसान बना डाला
कुदरत ने दिए रंज-ओ-गम कुछ इस तरह
वफ़ा के जज्बे को 'हर्ष' अहसान बना डाला ।

_________________हर्ष महाजन