Wednesday, November 19, 2014

रुसवा न होना तुम मेरे शेरों पर कभी

...

रुसवा न होना तुम......मेरे शेरों पर कभी,
हमारी ज़िंदगी का हासिल बस यही तो है |


__________हर्ष महाजन