Friday, June 5, 2015

मुझे तेरी जवानी ढलने का अंदाजा कतई न था

...
मुझे तेरी जवानी ढलने का......अंदाजा कतई न था,
वरना उलझता नहीं कभी तेरी जन्नत-ए-निगाह में |

___________________हर्ष महाजन