Thursday, November 7, 2013

फलक तक पहुँच जाएंगी अहसासों की बुलंदियां मेरी


फलक तक पहुँच जाएंगी अहसासों की बुलंदियां मेरी,
मगर दुश्मन घर का पता ढूंढ रहे हैं, बे-सब्री से मेरा ।

_______________हर्ष महाजन