Saturday, May 17, 2014

कितना आसां गुलों पे शक करना

 ...

कितना आसां गुलों पे शक करना,
क्या-क्या जाने अज़ाब गुजरते हैं |

Kitna aasaan guloN pe shaq karna,
kya-kya jaane azaab guzarte haiN.


______हर्ष महाजन