Sunday, June 22, 2014

चलो ईमान अपना....आजमा कर देखते हैं

...

चलो ईमान अपना....आजमा कर देखते हैं,
हम अकेले हैं....बत्तियाँ बुझा कर देखते हैं |
लोग तो कहते हैं तुम चौहदवीं  का चाँद हो,
चलो रात तुम्हें चाँद से मिला कर देखते हैं |

_____________हर्ष महाजन