Sunday, April 22, 2012

तेरे हुस्न की वो खुशबू ख्यालों में ले के गुज़रा

तेरे हुस्न की वो खुशबू ख्यालों में ले के गुज़रा
हैं चमन में तू ही हर सूँ मैं कली-कली से गुज़रा ।

____________________हर्ष महाजन