Wednesday, August 13, 2014

उसकी बेवफाई बता कितनी असरदार निकली


...

उसकी बेवफाई बता..कितनी असरदार निकली,
उसको समझाया बहुत पर वो खबरदार निकली |

अश्क आँखों से सरकते हैं....ज्यूँ अब रूह सरके,
वो यूँ खेली ज्यूँ....मोहब्बत की खरीदार निकली |

हम तो महफ़िलों में उसे...इश्की वफ़ा कहते रहे,
पर मेरी अश्क-ए-लहर उस से वफादार निकली |

मिली वो ज़िंदगी में....इक था नशा छाने लगा,
हुई थी बे-मज़ा फ़क़त जो वो किरदार निकली |

मैंने छोडी जो दुनिया लोगों ने समझाया बहुत,
मेरे ज़ख्मों की लहर दिल पे असरदार निकली |

______________हर्ष महाजन